मरहम लगा सको तो किसी गरीब के जख्मों पर लगा देना हकीम बहुत हैं

बाजार में अमीरों के इलाज खातिर

Related Garib Shayari :