Ek chahat hoti hai, janaab apno ke saath jeene ki,
Warna pata to hamen bhi hai ki.. upar akele hu jaana hai.

एक चाहत होती है, जनाब अपनों के साथ जीने की,
वरना पता तो हमें भी है कि.. ऊपर अकेले ही जाना है।

 

Related Love Shayari :